zahnggiljah.com is provided in English. Would you like to change to English?

जिस राह पर हम साथ-साथ चलते हैं

15 अप्रैल 2018 को 19वें नया जीवन वॉकथॉन में

अप्रैल 15, 2018
FacebookTwitterEmailLineKakaoSMS

अकेले चलनेवाले रास्ते में उदासी है, जिस मार्ग पर दो लोग चलते हैं उसमें प्रेम है, जिस मार्ग पर तीन लोग चलते हैं उसमें दोस्ती है और जिस मार्ग पर हम हाथ में हाथ डालकर सब एक साथ चलते हैं, उसमें आराम और शक्ति है। कठिन समय में जब लोग जीवन से थके हुए महसूस कर रहे होते हैं और जीने की इच्छा खो देते हैं, उनका हाथ पकड़ना उन्हें जीवन की आशा देता है और उन्हें फिर से उठने में मदद मिलती है।

आज, जब हम हाथ पकड़ते हैं, तो हम अपने पड़ोसियों को साहस और आशा के साथ वापस उठने के लिए प्रोत्साहित करने और उनका समर्थन करने के लिए एक साथ आशावादी कदम उठाएंगे। लोग फूलों से भी ज्यादा खूबसूरत होते हैं। आप अनमोल हैं, और आपका जीवन अनमोल है।